आपकी स्किन : आपका फेशियल



नॉर्मल - ड्राई स्किन  
अगर आपकी स्किन नॉर्मल है , तो आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है। आप ले सकती हैं फेशियल मसाज। यह चेहरे की क्लीनिंग कर शाइन लाता है। ब्यूटी एक्सपर्ट शहनाज कहती हैं , ' अगर आपकी स्किन नॉर्मल है और आसानी से ड्राई हो जाती है , तो क्लासिक और प्लांट स्टेम सेल फेशियल के ऑप्शन पर जाएं। '

क्लासिक फेशियल
क्लासिक फेशियल में क्लीनिंग , टोनिंग और मसाज ( इसमें हाथों व गैजट्स से दी जाने वाली मसाज ) शामिल हैं। यह मास्क के साथ स्किन को प्रोटेक्शन भी देता है। इसमें मसाज करते समय उंगलियों को खास डायरेक्शन से मूवमेंट दी जाती है। साथ ही , अलग - अलग एरियाज में विभिन्न स्ट्रोक्स और प्रेशर दिए जाते हैं।

प्लांट स्टेम सेल फेशियल
यह फेशियल स्किन को रिफ्रेश करने में मदद करता है और साथ ही यंग लुक देता है। प्लांट सेल में स्किन को अंदर से हेल्दी करने का प्रयास किया जाता है। यह स्किन की सेल्युलर लेवल पर हेल्प करता है और डेड व डैमेज्ड स्किन सेल्स को रिप्लेस करने में मदद करता है।

यही नहीं , सेल्युलर रिजनरेशन प्रोसेस को चुस्त कर यह एजिंग साइन को भी कम करता है। इसमें एक्सफोलिएटर , क्रीम , मास्क , सीरम और अंडर आई जैल जैसे प्रॉडक्ट्स शामिल रहते हैं।

नॉर्मल से ऑयली स्किन
शाहनाज कहती हैं , ' ऑयली स्किन के लिए क्रीम और मॉइश्चराइजर से मसाज नहीं दी जाती। दरअसल , ऑयली स्किन के फेशियल ट्रीटमेंट में डीप क्लींजिंग विद एक्सफोलिएशन , टोनिंग , मास्क एंड प्रोटेक्शन होता है। इससे जहां एक्सेस ऑयल को हटाने में मदद मिलती हैं , वहीं स्किन की डीप क्लीनिंग होने के बाद यह सॉफ्ट भी हो जाती है। '

पर्ल फेशियल
यह फेस की टैनिंग खत्म कर स्किन को ब्राइटनेस देता है और यह ऑयली स्किन के लिए अच्छा है। इसके अलावा , यह स्किन की डीप क्लीनिंग भी करता है। इसमें पर्ल क्रीम से लाइट फेशियल मसाज की जाती है और फिर पर्ल मास्क लगाया जाता है।

सिल्वर फेशियल
सिल्वर फेशियल में ग्लो स्क्रब , जेल , क्रीम और पैक होता है , जो स्किन की डलनेस को हटाकर ग्लो लाता है। यह फेशियल न केवलसिर्फ स्किन के नेचरल पीएच को बैलेंस करता है , बल्कि पोर्स को खोलकर ब्लैक हेड्स को खत्म करने में भी मदद करता है। ब्यूटी एक्सपर्ट डॉ . शोभा सहगल कहती हैं , ' यह फेशियल स्किन को मॉइश्चराइज देने के साथ स्किन में शाइन भी लाता है। '

कॉम्बिनेशन स्किन
कॉम्बिनेशन स्किन को केयरफुली ट्रीट करने की जरूरत होती है। दरअसल , इसमें ड्राई और ऑयली टिश्यू बराबर होते हैं , इसलिए इस पर अलग तरह से ध्यान दिए जाने की जरूरत है। इसमें क्लीनिंग के बाद ड्राई एरिया के लिए मसाज की जाती है और चेहरे का ऑयल कम करने के लिए फेस पैक का यूज किया जाता है।

प्लेटिनम फेशियल
प्लेटिनम फेशियल स्किन को रिचार्ज और एनर्जेटिक बनाता है। यह स्किन के सेल्युलर लेवल पर असर डालता है और उसके सपोर्टिव टिश्यू को स्ट्रॉन्ग करता है। यही नहीं , मॉइश्चराइज लेवल को ठीक रखने में भी यह फेशियल काम आता है। दरअसल , इसके पावरफुल एंटी - ऑक्सिडेंट्स चेहरे पर ग्लो लाते हैं।

जेम थेरपी
यह फेशियल स्किन बैलेंस को बनाए रखने के साथ स्किन के दाग - धब्बों को भी दूर करता है। इसमें माइक्र्रो फाइन पाउडर और विटामिन रिच ऑयल्स यूज होते हैं , जो स्किन को रिलैक्स करने के साथ इसके टोन और टेक्स्चर में इम्प्रूवमेंट लाते हैं।

0 comments: